Friday, April 2, 2010

खुदा के लिए त्योंहार मनाना बन्द करो, नहीं तो हम करवा देंगे

वर्तमान में जल्दी जल्दी कई स्थानों पर दंगे हुए जिनमें एक खास प्रकार का समीकरण सामने आया है। ये घटनाएँ हैं महाराष्ट्र के मेराज, उत्तर प्रदेश के बरेली तथा आंध्रप्रदेश के हैदराबाद की।

इन तीनों ही जगहों पर हिन्दू उत्सवों के समय फसाद हुए है। इनमें मेराज के गणेशोत्सव, बरेली में राम-बरात व हैदराबाद में हनुमान जयंती के उत्सव पर दंगा भड़का कर बाधा डाली गई। इन सभी जगहों पर कथित धर्मनिरपेक्ष ताकतों की सरकारें हैं। (इससे सम्बन्धित समाचार यहाँ देखें)

एक समय था जब गुलाम भारत पर मुगलों का शासन था, तब दीपावली जैसे त्योंहार भी मनाने पर प्रतिबन्ध था। अब जहाँ जहाँ मुस्लिम आबादी ठीकठाक है वहाँ दंगा-फसाद कर हिन्दुओं को त्योंहार मनाने से रोका जा रहा है। हमारी सेक्युलर सरकार व परम सेक्युलर मीडिया इस मामले में चुप है।

सोचिये हमारी संतानों के लिए हम कैसा भारत छोड़ कर जाने वाले है? क्या वे अपने त्योंहार मना पाएंगे? या फिर उन्हे जरूरत ही नहीं पड़ेगी क्योंकि वे हिन्दु रहेंगे ही नहीं। जिसकी दुहाई दी जा रही है उस संस्कृति को दफना दिया जाएगा क्योंकि गंगा को जमुना निगल लेगी।

3 comments:

दीर्घतमा April 2, 2010 at 3:53 AM  

midiya aur sakular dono bharat aur rashtra se upar hai.
hinduo ko jagna padega.

जीत भार्गव April 3, 2010 at 5:36 AM  

Congress Kaa Raaj Chalta Raha Toh...Ek Sabhi Hinduon Ko Hind-Mahasagar Me Doodnaa Padega.

  © Blogger template The Professional Template by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP